ट्रेडिंग उपकरण

रिपल क्या है?

रिपल क्या है?
Emre Ata

रिपल के सह-संस्थापक कहते हैं, बिटकॉइन माइनिंग को खत्म करना एक गलती होगी

रिपल नेटवर्क के सह-संस्थापक क्रिस लार्सन ने कहा कि अगर बिटकॉइन ने एथेरियम के समान छलांग लगाई और काम के सबूत (पीओडब्ल्यू) से हिस्सेदारी के सबूत (पीओएस) में अपनी आम सहमति एल्गोरिदम को बदल दिया तो यह एक गलती होगी। यह ब्लूमबर्ग क्रिप्टो समिट 2022 सम्मेलनों के ढांचे के भीतर हुआ।

लार्सन की स्थिति इस तथ्य पर आधारित है कि खनन अपने आप में एक प्रकार की संपत्ति बन गया है। उनके अनुसार का महत्व बिटकॉइन माइनिंग अपनी ब्लॉक चेन को पार करता है और समाज के विभिन्न क्षेत्रों को प्रभावित करता हैजैसे उद्यमिता और खनन हार्डवेयर बाजार।

लार्सन का भाषण बदलना परेशान करने वाला है, यह देखते हुए कि इस साल मार्च में वह बिटकॉइन के लिए PoW से PoS में बदलने के लिए ग्रीनपीस की पहल का समर्थन कर रहा था। क्रिप्टोनोटिसियस ने बताया कि अरबपति ने इस कारण से 5 मिलियन अमरीकी डालर का दान दिया।

इस अवसर पर, रिपल के सह-संस्थापक ने जोर दिया कि खनन के बारे में उनकी शिकायत गैर-नवीकरणीय ऊर्जा स्रोतों का उपभोग करने के लिए प्रोत्साहन है। बिटकॉइन में एल्गोरिथम परिवर्तन का उनका विचार अभी भी कायम है, केवल अब यह इसे “स्वच्छ कार्य के प्रमाण” के रूप में प्रस्तुत करता है, जिसमें यह सत्यापित किया जा सकता है कि खदान में उपयोग की जाने वाली ऊर्जा अक्षय स्रोत से आती है। लार्सन ने आश्वासन दिया कि उस विचार पर पहले से ही लोग काम कर रहे हैं।

मंच पर एक बिटकॉइनर परिप्रेक्ष्य

ब्लूमबेग क्रिप्टो समिट 2022 में रिपल के सह-संस्थापक की भागीदारी अकेली नहीं थी। लार्सन के साथ ब्रिटनी कैसर, ग्रिफ़ोन डिजिटल माइनिंग के निदेशक मंडल की अध्यक्ष, बिटकॉइन खनन के लिए समर्पित कंपनी थी।

कैसर ने बिटकॉइन खनन को पर्यावरण के अनुकूल बनाने के लार्सन के आदर्श से सहमति व्यक्त की। वास्तव में, उसने नोट किया कि आपकी कंपनी केवल जलविद्युत और परमाणु ऊर्जा का उपयोग करती है. हालांकि दूसरा, हालांकि यह क्लीनर है, सिद्धांत रूप में, अगर कुछ नियंत्रण से बाहर हो जाता है तो बहुत गंभीर पर्यावरणीय जोखिम होते हैं।

जहां तक ​​सौर और पवन ऊर्जा का सवाल है, जैसा कि क्रिप्टोनोटिसियस ने पहले बताया है, बिटकॉइन खनन क्षेत्र में फलफूल रहा है, कैसर के पास इसके विकल्पों में से नहीं है। इसका कारण यह है कि ये शक्ति स्रोत उतने स्थिर नहीं हैं जितने कि वह उपयोग करती हैं. इसलिए, उनका उपयोग करने वाली कई कंपनियां जीवाश्म ईंधन के उपयोग का सहारा लेने के लिए मजबूर हैं।

सबसे अच्छे मामलों में, सौर और पवन ऊर्जा दोनों बैटरियों का उपयोग करते हैं जो लिथियम के साथ काम करती हैं ताकि भंडार हो। ग्रिफॉन के कार्यकारी के अनुसार, पर्यावरण में लिथियम संदूषण का स्तर इसे पर्यावरणीय पदचिह्न समस्या के समाधान के रूप में नियंत्रित करता है बिटकॉइन माइनिंग का।

भारत श्रीलंका की स्थिति से चिंतित, तुलना करना अनुचित: एस जयशंकर

मंत्री ने कहा कि बैठक के लिए 46 दलों को आमंत्रित किया गया था। प्रह्लाद जोशी और पुरुषोत्तम रूपला सहित आठ मंत्री थे श्रीलंका के हालात पर सर्वदलीय नेताओं की बैठक में विदेश मंत्री डॉ. एस जयशंकर। एएनआई नई दिल्ली: विदेश मंत्री एस जयशंकर ने मंगलवार को कहा कि श्रीलंका […]

DC vs CSK: दिल्ली और चेन्नई के बीच मैच के बाद धोनी से मिले रिपल पटेल, बोले- उनकी तरह फिनिशर बनना चाहता हूं

चेन्नई के खिलाफ अपना पहला आईपीएल मैच खेलने वाले रिपल पटेल ने कहा है कि धोनी से बात करके उन्हें काफी अच्छा लगा। धोनी ने उन्हें काफी आत्मविश्वास दिया और वो उनकी तरह ही फिनिशर बनना चाहते हैं।

चेन्नई के खिलाफ मैच में शॉट खेलते रिपल पटेल।

दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को तीन विकेट से हराकर अंकतालिका में पहले पायदान पर कब्जा कर लिया है। दिल्ली ने अपने 13 में से 10 मैच जीते हैं और 20 अंकों के साथ इस सीजन नंबर एक टीम बनी हुई है। इस मैच में दिल्ली के ऑलराउंडर रिपल पटेल ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत की। 20 गेंदों में 18 रन बनाने वाले पटेल ने कहा कि धोनी उनके आदर्श हैं और वो उनकी तरह ही फिनिशर बनना चाहते हैं। मैच के बाद उन्होंने धोनी से बात भी की और माही ने रिपल के साथ अपने अनुभव साझा किए।

रिपल ने बताया कि धोनी ने विकेट के पीछे से उन्हें बल्लेबाजी करते हुए देखा यह उनके लिए बहुत बड़ी बात थी। उन्होंने कहा "माही भाई को विकेट के पीछे देखना बिल्कुल अलग अनुभव था। जब मैंने गार्ड लिया तब मुझे बहुत रिपल क्या है? अच्छा लगा कि माही भाई मुझे खेलते देख रहे हैं। मैं उन्हें देखते हुए ही क्रिकेट खेलना शुरू किया और मैं उनकी तरह ही फिनिशर बनना चाहता हूं। मैच खत्म होने के बाद मैंने उनसे पूछा कि वो हर मैच कैसे फिनिश करते हैं। वो मैदान में कैसे सोचते हैं और किसी भी लक्ष्य का पीछा करते समय उनके दिमाग में क्या चलता है। हमने काफी अच्छी बात की और उन्होंने मुझे काफी आत्मविश्वास दिया।" जब रिपल से पूछा गया कि पहले मैच में उनका अनुभव कैसा था तो उन्होंने कहा "मैं बहुत खुश था, जब मुझे मिशी भाई के हाथों कैप मिली। मुझे नहीं लगा कि यह मेरा पहला मैच था। पिच में जाते समय मुझे काफी अच्छा लग रहा था। मैं सिर्फ अपने ऊपर भरोसा रखना चाह रहा था और गेम का मजा लेना चाह रहा था। जब मैं बल्लेबाजी करने पहुंचा तब हमें हर गेंद में एक रन बनाने की जरूरत थी। मैंने टीम के लिए मैच खत्म करने की सोची। शिखर भाई ने मुझसे अपना समय लेने के लिए कहा और मैनें अपना समय लेकर अपनी बल्लेबाजी का मजा लिया।" रिपल ने यह भी बताया कि वो टीम के लिए मैच खत्म न कर पाने से निराश हैं, लेकिन उनकी टीम ने यह मैच जीत लिया यह ज्यादा मायने रखता है। उन्होंने कहा कि जब दिल्ली को रिपल क्या है? तीन गेंदों में दो रनों की जरूरत थी तब वो काफी चिंतित थे। उनकी टीम के सभी खिलाड़ी दो रन भागने के बारे में सोच रहे थे और रबादा चौका लगाकर सभी की चिंता दूर कर दी। यह मैच जीतने के बाद दिल्ली के 20 अंक हो चुके हैं और दिल्ली की टीम अंकतालिका में टॉप पर पहुंच गई है।

विस्तार

दिल्ली कैपिटल्स ने चेन्नई सुपरकिंग्स को तीन विकेट से हराकर अंकतालिका में पहले पायदान पर कब्जा कर लिया है। दिल्ली ने अपने 13 में से 10 मैच जीते हैं और 20 अंकों के साथ इस सीजन नंबर एक टीम बनी हुई है। इस मैच में दिल्ली के ऑलराउंडर रिपल पटेल ने अपने आईपीएल करियर की शुरुआत की। 20 गेंदों में 18 रन बनाने वाले पटेल ने कहा कि धोनी उनके आदर्श हैं और वो उनकी तरह ही फिनिशर बनना रिपल क्या है? चाहते हैं। मैच के बाद उन्होंने धोनी से बात भी की और माही ने रिपल के साथ अपने अनुभव साझा किए।

रिपल ने बताया कि धोनी ने विकेट के पीछे से उन्हें बल्लेबाजी करते हुए देखा यह उनके लिए बहुत बड़ी बात थी। उन्होंने कहा "माही भाई को विकेट के पीछे देखना बिल्कुल अलग अनुभव था। जब मैंने गार्ड लिया तब मुझे बहुत अच्छा लगा कि माही भाई मुझे खेलते देख रहे हैं। मैं उन्हें देखते हुए ही क्रिकेट खेलना शुरू किया और मैं उनकी तरह ही फिनिशर बनना चाहता हूं। मैच खत्म होने के बाद मैंने उनसे पूछा कि वो हर मैच कैसे फिनिश करते हैं। वो मैदान में कैसे सोचते हैं और किसी भी लक्ष्य का पीछा करते समय उनके दिमाग में क्या चलता है। हमने काफी अच्छी बात की और उन्होंने मुझे काफी आत्मविश्वास दिया।"

मुझे नहीं लगा कि यह पहला मैच है

दिल्ली की टीम का ट्वीट।

जब रिपल से पूछा गया कि पहले मैच में उनका अनुभव कैसा था तो उन्होंने कहा "मैं बहुत खुश था, जब मुझे मिशी भाई के हाथों कैप मिली। मुझे नहीं लगा कि यह मेरा पहला मैच था। पिच में जाते समय मुझे काफी अच्छा लग रहा था। मैं सिर्फ अपने ऊपर भरोसा रखना चाह रहा था और गेम का मजा लेना चाह रहा था। जब मैं बल्लेबाजी करने पहुंचा तब हमें हर गेंद में एक रन बनाने की जरूरत थी। मैंने टीम के लिए मैच खत्म करने की सोची। शिखर भाई ने मुझसे अपना समय लेने के लिए कहा और मैनें अपना समय लेकर अपनी बल्लेबाजी का मजा लिया।"

मैच खत्म न कर पाने से निराश हैं रिपल

रिपल ने यह भी बताया कि वो टीम के लिए मैच खत्म न कर पाने से निराश हैं, लेकिन उनकी टीम ने यह मैच जीत लिया यह ज्यादा मायने रखता है। उन्होंने कहा कि जब दिल्ली को तीन गेंदों में दो रनों की जरूरत थी तब वो काफी चिंतित थे। उनकी टीम के सभी खिलाड़ी दो रन भागने के बारे में सोच रहे थे और रबादा चौका लगाकर सभी की चिंता दूर कर दी। यह मैच जीतने के बाद दिल्ली के 20 अंक हो चुके हैं और दिल्ली की टीम अंकतालिका में टॉप पर पहुंच गई है।

Cryptocurrency India

क्रिप्टोक्यूरेंसी खरीदें.jpg

Emre Ata

क्रेडिट कार्ड के साथ रिपल एक्सआरपी कैसे खरीदें?

क्रेडिट कार्ड के साथ रिपल एक्सआरपी कैसे खरीदें?

रिपल शीर्ष क्रिप्टोकरेंसी में से एक है और अन्य लोगों के साथ एक विशेष रूप से आशाजनक डिजिटल मुद्रा है। हमने आपके लिए Ripple खरीदने के विभिन्न विकल्पों पर बारीकी से विचार किया है। इसके अलावा, पढ़ें कि क्या रिपल अन्य क्रिप्टोकरेंसी से अलग है। Ripple बैंकों और निवेशकों के लिए एक संभावित क्रिप्टोकरेंसी है Ripple बाजार पूंजीकरण के मामले में सबसे बड़ी क्रिप्टोकरेंसी में से एक है। बिटकॉइन के विपरीत, रिपल का उद्देश्य बैंकों के साथ काम करना भी है। इस प्रकार रिपल डिजिटल मुद्राओं के समूह में एक विशेष भूमिका निभाता है और इसलिए इसे बैंकिंग क्रिप्टोक्यूरेंसी भी कहा जाता है। तकनीकी दृष्टिकोण से, रिपल एक ओपन-सोर्स प्रोटोकॉल है और एक अंतरराष्ट्रीय भुगतान नेटवर्क है। इसे 2012 में Ripple Labs द्वारा लॉन्च किया गया था। उनका विचार: रिपल को सहकर्मी को सहकर्मी सिद्धांत को बड़े वित्तीय संस्थानों के लिए सुलभ बनाना चाहिए। यहां कुशलतापूर्वक और सस्ते में कार्य करना संभव होना चाहिए। सवाल यह है: रिपल कैसे खरीदें?

10 रुपये में भी खरीद सकते हैं बिटकॉइन, कैसे लगाएं इसमें पैसा और क्या यह सही टाइम है

ग्राहक चाहे तो 10 रुपये में भी बिटकॉइन खरीद सकता है. इसके लिए केवाईसी कराना होगा जिसमें बैंक की मदद ली जाती है. केवाईसी होने के बाद रिपल क्या है? आप बिटकॉइन खरीदना शुरू कर सकते हैं.

10 रुपये में भी खरीद सकते हैं बिटकॉइन, कैसे लगाएं इसमें पैसा और क्या यह सही टाइम है

TV9 Hindi | Edited By: Ravikant Singh

Updated on: Dec 18, 2020 | 12:49 PM

सोने चांदी में ही नहीं, इस साल क्रिप्टोकरेंसी बिटकॉइन में भी जोरदार तेजी देखने को मिल रही है. डॉलर की कमजोरी आने से क्रिप्टोकरेंसी पर बड़ा असर देखा जा रहा है और यह दिनोंदिन तेजी से बढ़ती जा रहा है. जहां तक बिटकॉइन की बात है तो एक साल के अंदर इसमें 220 परसेंट तक का इजाफा हुआ है. यानी कि एक बिटकॉइन ने 220 परसेंट तक रिटर्न दिया है. यही हाल अन्य कई क्रिप्टोकरेंसी का भी है.

इसी तरह इथिरियम और रिपल का भी नाम आता है रिपल क्या है? जो मार्केट में नामी क्रिप्टोकरेंसी के तौर पर जानी जाती हैं. इसमें भी बिटकॉइन की तरह तेजी देखी जा रही है. इथिरियम ने तो बिटकॉइन से ज्यादा प्रोफिट दिया है और इसमें 350-400 परसेंट से ज्यादा की तेजी देखी जा रही है. यही हाल रिपल के साथ है जिसमें एक साल में लगभग 200 परसेंट का फायदा दिया है.

भारत में भी तेजी से बढ़ रही मांग

अंतरराष्ट्रीय बाजार में क्रिप्टोकरेंसी की मांग तो है ही, भारत में भी लोगों ने इसे काफी पसंद किया है. खरीदारों की बड़ी संख्या क्रिप्टोकरेंसी की तरफ रुख करते दिख रही है. कोरोना काल में लोगों ने क्रिप्टोकरेंसी में खूब पैसा लगाया है. पिछले साल रिजर्व बैंक ने साफ कर दिया कि अभी भारत में क्रिप्टोकरेंसी को वैध बनाने का कोई इरादा नहीं है. इसके बावजूद लोगों ने बढ़चढ़ कर बिटकॉइन की खरीदारी की है. बिटकॉइन में तेजी का एक बड़ा कारण यह बताया जा रहा है कि दुनिया की बड़ी-बड़ी कंपनियों और संस्थाओं ने थोक में बिटकॉइन खरीदा है जिससे इसकी मांग तेजी से बढ़ी है. यह बिटकॉइन में मजबूती का संकेत है.

भारत में 2017 में जिन लोगों ने बिटकॉइन में निवेश किया था, वे दोबारा इसे बढ़ाना चाहते हैं. बिटकॉइन के ऑनलाइन एक्सचेंज में लोगों की गतिविधि पहले से काफी बढ़ गई है क्योंकि आज बहुतायत में लोग इस करेंसी में निवेश करना चाहते हैं. एक्टिव यूजर्स की संख्या में लगातार वृद्धि देखी जा रही है. मार्केट में अभी बिटकॉइन की रेट 23 हजार डॉलर के आसपास चल रहा है.

हर दिन 20 मिलियन डॉलर की खरीदारी

भारत में हर दिन 20 मिलियन डॉलर की खरीदारी हो रही है. ये वो रकम है जो लोग अपने रुपये को क्रिप्टोकरेंसी में निवेश करते हैं. इसमें रिटेल इनवेस्टर की भी अच्छी खासी संख्या है. भारत में यह संख्या और बढ़ सकती है लेकिन रेगुलेशन को लेकर ग्राहकों में अनिश्चितता बनी हुई है जिससे लोगों के पास पैसा होते हुए भी वे क्रिप्टोकरेंसी में लगाने से संकोच कर रहे हैं. अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अरबों डॉलर की खरीद-बिक्री क्रिप्टोकरेंसी में जारी है लेकिन भारत में यह वॉल्यूम अभी 20 मिलियन डॉलर के बराबर है. कह सकते हैं कि अंतरराष्ट्रीय स्तर पर क्रिप्टोकरेंसी के मार्केट में भारत अभी बहुत पीछे है क्योंकि लोगों में रेगुलेशन को लेकर कई चिंताएं हैं.

कोरोना के बीच सुधरा बाजार

इसके पीछे एक वजह यह भी बताई जा रही थी कि पहले मार्केट डाउन चल रहा था. कोरोना के चलते इकोनॉमी डाउन हुई थी लेकिन अब इसमें तेजी आ रही है. तेजी आने के साथ उम्मीद जताई जा रही है कि लोग क्रिप्टोकरेंसी में अपना निवेश बढ़ाएंगे. जिन लोगों ने पहले कम निवेश किया था, वे अब इसमें और तेजी लाएंगे. इस वक्त एक बिटकॉइन 16 लाख रुपये का चल रहा है. बिटकॉइन के साथ अच्छी बात यह है कि जैसे हमें एक पूरा शेयर खरीदना होता है, वैसा बिटकॉइन के साथ नहीं है.

हम चाहें तो बिटकॉइन का एक छोटा हिस्सा भी खरीद सकते हैं. भारत में पहले बिटकॉइन खरीदना मुश्किल था लेकिन अब इसकी खरीदारी मोबाइल एप से करना आसाना है. ग्राहक चाहे तो 10 रुपये में भी बिटकॉइन खरीद सकता है. इसके लिए केवाईसी कराना होगा जिसमें बैंक की मदद ली जाती है. केवाईसी होने के बाद आप बिटकॉइन खरीदना शुरू कर सकते हैं.

MS Dhoni के साथ बातचीत करके मुझे काफी आत्मविश्वास मिला: रिपल पटेल

मध्यक्रम गेंदबाज रिपल पटेल ने चेन्नई सुपर किंग्स के खिलाफ आईपीएल 2021 के 50वें मैच में दिल्ली कैपिटल्स के लिए डेब्यू किया।

Published: October 5, 2021 4:42 PM IST

MS Dhoni के साथ बातचीत करके मुझे काफी आत्मविश्वास मिला: रिपल पटेल

सोमवार को चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) के खिलाफ खेले गए इंडियन प्रीमियर लीग 2021 के 50वें मैच के साथ दिल्ली कैपिटल्स के लिए डेब्यू करने वाले मध्यक्रम बल्लेबाज रिपल पटेल ने कहा कि कहा कि पूर्व दिग्गज महेंद्र सिंह धोनी MS Dhoni) से बातचीत करने से उनका आत्मविश्वास बढ़ा।

Also Read:

पटेल ने कहा, “जब मैंने गार्ड लिया तो माही भाई को स्टंप्स के पीछे देखना पूरी तरह से एक अलग एहसास था। बहुत अच्छा लगा कि माही भाई मुझे खेलते हुए देख रहे हैं। मैंने माही भाई को देखकर क्रिकेट खेलना शुरू किया और मैं उनकी तरह फिनिशर बनना चाहता हूं।”

उन्होंने कहा, “खेल के बाद, मैंने उनसे पूछा कि वो हर मैच कैसे खत्म करते हैं, वो मैदान पर कैसे सोचतें हैं और स्कोर का पीछा करते हुए उनके दिमाग में क्या चलता है। हमारे बीच अच्छी बातचीत हुई और उन्होंने मुझे बहुत आत्मविश्वास दिया।”

दिल्ली ने चेन्नई को तीन विकेट से हराया था और इस जीत के साथ ही वह अंक तालिका में शीर्ष पर आ गई है। मैच से पहले दिल्ली कैपिटल्स कैप हासिल करने पर उनकी भावनाओं के बारे में पूछे जाने पर पटेल ने कहा कि उन्हें नहीं लगा था कि ये उनका पहला मैच था।

उन्होंने कहा, “मैं वास्तव में खुश था जब मुझे मिशी भाई (अमित मिश्रा) से कैप मिली। ऐसा नहीं लगा कि ये मेरा पहला मैच था। मुझे लगा मैच में जाने के लिए वास्तव में अच्छा है। मैंने बस अपने आप को पीछे देखा और खेल के हर हिस्से का आनंद लिया।”

उन्होंने कहा, “जब मैं बल्लेबाजी करने गया (71/3 पर), तो हमें रन प्रति गेंद की गति से रन बनाने की जरूरत थी। मेरा लक्ष्य टीम के लिए मैच खत्म करना था। शिखर भाई (धवन) ने मुझे क्रीज पर अपना समय लेने के लिए कहा था। इसलिए मैंने अपना समय लिया और अपनी बल्लेबाजी का लुत्फ उठाया।”

रिपल को दिल्ली के फैंस की तरह कगिसो रबाडा को आखिरी ओवर में एक चौके के साथ मैच खत्म करते हुए देखने में मजा आया।

उन्होंने कहा, “हमारे लिए मैच जीतना बहुत जरूरी था। ये एक संकटपूर्ण स्थिति थी जब हमें 3 गेंदों पर 2 रन चाहिए थे। हम कुछ रनों की तलाश में थे और रबाडा को बाउंड्री लगाते हुए देखना बहुत अच्छा था। मैं निराश था कि मैंने मैच खत्म नहीं किया, लेकिन ये बहुत अच्छा था कि टीम जीत गई और 20 अंक तक पहुंच गई।”

ब्रेकिंग न्यूज और लाइव न्यूज अपडेट के लिए हमें फेसबुक पर लाइक करें या ट्विटर पर फॉलो करें. India.Com पर विस्तार से पढ़ें की और अन्य ताजा-तरीन खबरें

रेटिंग: 4.19
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 213
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *