एक विस्तृत ट्रेडिंग ट्यूटोरियल

ब्रोकर चुनना

ब्रोकर चुनना

एक संपत्ति बेचने के लिए चाहते हैं? एक ब्रोकर को चुनने के लिए ये 5 प्रश्न पूछें

एक संपत्ति दलाल एक चाहिए यदि आप ऊपर हैं और अपनी संपत्ति बेचने के लिए तैयार हैं। और, सिर्फ एक ब्रोकर ही नहीं, आपको एक अच्छा, कुशल दलाल की ज़रूरत होगी जो कि एक संपत्ति को तेजी से बेचने और उपयुक्त नियमों और शर्तों को बेचने में मदद कर सकते हैं। लेकिन, आप अपने इलाके में और आस-पास कई सैकड़ों के बीच ऐसा ब्रोकर कैसे खोजते हैं? हमारा सुझाव है कि आप उन्हें पहले मिलें और उनके कौशल और दक्षताओं को समझें। मकायानीक पांच प्रश्नों को सूचीबद्ध करता है, जिसमें आपको ब्रोकर से उनकी पहली बैठक के दौरान पूछना चाहिए: आप इलाके के बारे में कितनी अच्छी तरह जानते हैं? इससे पहले कि आप एक दलाल को यह सवाल पूछें, आपको अपने खुद के क्षेत्र के बारे में सब कुछ पता होना चाहिए। एक शीर्ष दलाल आप जिस इलाके की पूछताछ कर रहा है, उसके सकारात्मक और नकारात्मक को समझाते हुए पूरी तरह से आरामदायक है अपने दलाल को इलाके के बारे में अच्छी जानकारी है, उतना वह संभावित संपत्ति खरीदने वाले भावी खरीदारों को दे सकता है। शायद, आप पहले एक खरीदार के रूप में पूछताछ कर सकते हैं ब्रोकर चुनना कि वह एक संभावित ग्राहक के साथ कैसे काम करता है यह एक अतिरिक्त लाभ हो सकता है अगर दलाल एक ही इलाके का निवासी है यह साइट विज़िट जैसी चीज़ों को आसान बनाता है आप अपनी संपत्ति कैसे बेचेंगे? यह प्रश्न आपको यह विचार दे सकता है कि ब्रोकर बाजार में कितनी अच्छी तरह शब्द निकाल सकता है। संपत्ति साइटों पर अपनी वर्तमान लिस्टिंग की जाँच करें ऑनलाइन प्रॉपर्टी लिस्टिंग साइट्स संपत्ति के बाजार के लिए सबसे संभावित तरीके प्रदान करती हैं और आपके ब्रोकर को इस प्लेटफ़ॉर्म की सही समझ होनी चाहिए जिस तरह से उन्होंने साइट्स पर अन्य गुणों को प्रदर्शित किया है और अखबारों, यात्रियों सहित अन्य सभी तरीकों का प्रदर्शन किया है, उस पर एक नज़र डालें। आस-पास के समान संपत्ति बेचने में आपका क्या अनुभव है? एक दलाल जो पहले से ही आपकी संपत्ति के समान संपत्ति बेच चुका है, नए खरीदार को खोजने के लिए बेहतर स्थिति में हो सकता है। अपने पिछले लेनदेन से, उन्हें यह पता होना चाहिए कि लक्षित दर्शक और संभावित खरीदारों कौन हो सकता है। यह सभी अनुभव से आता है। एक अनुभवी दलाल सही आधार तक पहुंच सकता है और एक उच्च संभावित खरीदार समझ सकता है। मेरी संपत्ति बेचने में चुनौतियों का क्या होगा? एक अच्छा दलाल चुनौतियों के अग्रिम के बारे में बात करेंगे शायद ही किसी भी संपत्ति के मुद्दों के बिना आता है यह बाहरी या आंतरिक हो सकता है, लेकिन, सुनिश्चित करने के लिए चुनौतियां वहां मौजूद हैं। इस प्रश्न का उत्तर देने के लिए उन्हें आपको साइट यात्रा के लिए पूछना चाहिए। ऐसे दलालों से बचें जो एक सुस्त रवैया दिखाते हैं या अति आत्मविश्वास को व्यक्त करते हैं। यदि आपको लगता है कि वे साइट यात्रा से आपके साथ नहीं निकलते हैं, तो संभावना है कि वे खरीदारों के साथ भी ऐसा करते हैं। मुझे क्या करना होगा? इस सवाल का उत्तर दलाल से दलाल तक भिन्न हो सकता है कुछ दलाल आपको स्वामित्व और शीर्षक को प्रमाणित करने के लिए कानूनी दस्तावेजों की सभी फोटोकॉपी दे ब्रोकर चुनना सकते हैं। कुछ लोग आपको घर से सफाया करने या किसी भी क्षति को ठीक करने के लिए कह सकते हैं, जो संपत्ति बेचने की संभावनाओं को नुकसान पहुंचा सकती हैं। परन्तु ये सब आपको यह समझ देगी कि वे पूरे मामले के बारे में कितने ईमानदार हैं अंतिम लेकिन कम नहीं; सुनिश्चित करें कि शुल्क और शुल्कों सहित सभी विज्ञापनों को अच्छी तरह से पहले से सहमत हो गया है इस मोर्चे पर बातचीत के लिए किसी ब्रोकर चुनना भी कमरे को मत छोड़ो क्योंकि एक बार बाद में संभावित खरीदार प्राप्त करने के बाद चीजें अलग दिशा में ले सकती हैं

ब्रोकर से डील करते ब्रोकर चुनना वक्त इन बातों का रखें ध्याान

ब्रोकर से डील करते वक्त इन बातों का रखें ध्याान

निवेश की आदत सभी को डालना चाहिए। कई बार लोगों को लगता है कि निवेश करने की प्रक्रिया और उससे जुड़े शब्द बड़े ही कठिन होते हैं। लेकिन अगर आप नए निवेशक हैं तो इससे घबराने की बिल्कुल जरूरत नहीं हैं। दरअसल निवेश की दुनिया बाहर से जितनी कठिन दिखती है उतनी है नहीं। अगर आप कुछ चीजों पर अपनी पकड़ बना लेंगे तो आप इसे आसानी से समझ पाएंगे।

भारत में शेयर बाजार ने लंबे समय में बाकि सभी एसेट्स से अच्छा रिटर्न दिया है। पिछले 15 साल में भारतीय सिक्योरिटी मार्केट में काफी तेजी आई है। इसकी उन्नती ने कई घरेलू निवेशकों को आकर्षित किया है। इसमें शहरी, ग्रामीण और गृहणियां भी शामिल है। पिछले कुछ समय से सिक्योरिटी मार्केट में भी कई बदलाव हुए हैं। टेक्नोलॉजी ने सबकुछ बदल दिया है। अब आप कंप्यूटर और मोबाइल से भी ट्रेडिंग कर सकते हैं। अगर आप ट्रेडिंग के लिए किसी ब्रोकर के पास जा रहे हैं तो इन बातों का ध्यान रखें।

ब्रोकरेज हाउस का सदस्य बनने से पहले रिसर्च करें

अगर आप शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने जा रहे हैं तो सही ब्रोकर चुनना सबसे अहम फैसले में से एक है। आपका चुनाव आपके रिटर्न पर भी असर डाल सकता है। इसमें कमीशन और ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म की स्थिरता सबसे जरूरी है। अगर आप किसी ब्रोकरेज हाउस के सदस्य बन रहे हैं तो पहले पूरी रिसर्च कर लें। आप अपनी मेहनत की कमाई किसी के हवाले जा रहे हैं। इससे बाद में होने वाली परेशानियों से बच जाएंगे॥ किसी भी ब्रोकरेज हाउस का सदस्य बनने से पहले आप उनके ऑफिस जाएं। ऑनलाइन भी उसके बारे में जानकारी जुटा लें। उसकी लागत की दूसरे ब्रोकरेज हाउस से तुलना करें। इसके अलावा वहां पर किस ब्रोकर चुनना तरह की सेवाएं दी जा रही हैं इसकी भी जानकारी लें। मसलन सिर्फ शेयरों की ट्रेडिंग है या कमोडिटी और करेंसी में ट्रेडिंग की भी सुविधा है। ऐसे ब्रोकरेज हाउस से बचें जो सिर्फ एक तरह के प्रोडक्ट की ही तरफदारी कर रहा हो। इसके अलावा ऐसे ब्रोकरेज हाउस जो बहुत छोटे ब्रोकर चुनना हैं या जिनके बारे में आपने सुना नहीं हैं उनसे परहेज करें।

रजिस्ट्रेशन और लाइसेंस की जांच करें

ब्रोकरेज के लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की जांच हमेशा फायदेमंद होता है। ब्रोकरेज हाउस की सेबी से संबद्धता की जांच भी करें। ब्रोकरेज हाउस की वेबसाइट खंगाले। इससे आपको उस कंपनी के इतिहास के बारे में आसानी से पता चल जाएगा। इसके अलावा ब्रोकरेज हाउस के बारे में ग्राहकों की ज्यादा शिकायत तो नहीं है। दूसरी और कंपनी पर कोई अनुशासनात्मक कार्यवाही तो नहीं कि गई है।

कंपनी की वित्तीय सेहत की जानकारी भी निकालें। स्टॉक एक्सचेंज की वेबसाइट से उस ब्रोकरेज हाउस के पंजीकरण और लाइसेंस की जानकारी मिल जाएगी। अगर कोई ब्रोकर इंश्योरेंस पर सलाह दे रहा है तो उसके पास बीमा रेगुलेटर आईआरडीएआई का लाइसेंस अलग से होना चाहिए।

ब्रोकर पर आंख मूंद कर भरोसा न करें

ब्रोकर के चुनाव के बाद जब निवेश की शुरूआत करें तो अपने डीमैट अकाउंट स्टेटमेंट और बैंक स्टेटमेंट चेक करते रहें ताकि कोई गड़बड़ी हो तो उसका पता चल सके। अगर ब्रोकरेज हाउस के पास अतिरिक्त मार्जिन का पैसा पड़ा हो तो उसे अपने खाते में वापस ट्रांसफर करवा ब्रोकर चुनना लें। याद रखें ऐसी कंपनियों के शेयर ना खरीदें जिनके मैनेजमेंट पर सवाल उठ रहे हों। ब्रोकर के कहने पर भी ऐसी कंपनियों के शेयर भी ना खरीदें जिन्हें आप तत्काल न बेंच पाएं।

ब्रोकर जो भी सुझाए उस सब में निवेश ना करें

याद रखें आपकी कड़ी मेहनत का कोई विकल्प नहीं है। हमेशा सोंच विचार कर ही निवेश संबंधी निर्णय लें। किसी की कही सुनी बातों या टिप्स पर निवेश न करें। हॉलीवुड की मशहूर फिल्म द वॉल्फ ऑफ वॉल स्ट्रीट (2013) का एक डायलॉग है वॉल स्ट्रीट का पहला नियम है-नोबडी। और मुझे इससे कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप वॉरेन बफेट हैं या जिमी बफेट। सूत्रवाक्य यही है कि हर किसी की सलाह पर निवेश न करें।

बाजार में किए निवेश पर धैर्य रखें

निवेश का ये सबसे महत्वपूर्ण नियम है जिसका आपको पालन करना होगा। ये सबसे मुश्किल भी है। नए-नए निवेशकों में ये आम प्रवृत्ति होती है कि जो भी स्टॉक ब्रोकर बताएगा वो वही करते जाएंगे। वो भीड़ का अनुशरण करते हैं। मतलब जब सब बेंच रहे हो तो वो बेचेंगे और जब सब खरीद रहें हों तो खरीदेंगे। विश्वास मानिए ये मानसिकता कभी भी मददगार साबित नहीं होती। अपने निवेश को बनाए रखिए और पोषित करिए जब तक कि आप अपने लक्ष्य को पा नहीं लेते। इस पैसे को तभी निकालिए जब आपका लक्ष्य हासिल हो जाए। शेयर बाजार में डे ट्रेडिंग से बिल्कुल बचें। पैसा बनाने में काफी वक्त लगता है। लेकिन जब बन जाता है तो बहुत अच्छे परिणाम होते हैं। एक चीज हमेंशा याद रखें रोम एक दिन में नही बना।

बीलाइन ब्रोकिंग ने अनुकूलित ब्रोकरेज प्लान पेश किया - भारत में एक नई अवधारणा

ढेर सारे वित्तीय उत्पादों और ब्रोकरेज हाउसों की अधिकता की वजह से निवेशक के लिए ऐसा ब्रोकर चुनना ब्रोकर चुनना सचमुच कठिन हो जाता है जो उनकी वित्तीय योजनाओं को सचमुच समझ सके और निवेश की उनकी सोच को तुरंत समझते हुए एकदम सटीक व सही सलाह दे सके। हालांकि सलाह की एक कीमत होती है! लेकिन यदि आपको ब्रोकर से ऐसा ब्रोकरेज प्लान मिले जो आपकी ज़रूरतों के अनुरूप हो तो कैसा रहेगा? ठीक है न?

हां, अब आपको और परेशान होने की ज़रूरत नहीं। बीलाइन ब्रोकिंग लिमिटेड ने अपने क्लाइंट्‌स के लिए क्रांतिकारी अनुकूलित ब्रोकरेज प्लान पेश किया है (अधिक विवरणों के लिए हमारी वेबसाइट http://www.beelinebroking.com देखें)। सेवा के नए मानक रचने की परम्परा तथा अपने क्लाइंट्‌स के लिए अनुकूलित समाधान उपलब्ध कराने की सोच के साथ बीलाइन ब्रोकिंग ने अब एक ऐसा ब्रोकरेज प्लान पेश किया है जो आपके लिए ब्रोकर चुनना एकदम उपयुक्त रहेगा। बीलाइन ब्रोकिंग ने अपने ग्राहकों को उनकी ज़रूरतों के हिसाब से ब्रोकरेज चुनने का विकल्प दिया है।

ढेर सारे प्रस्तावित लचीले ब्रोकरेज विकल्पों में से आप किस तरह चुन सकते हैं, इसके कुछ उदाहरण नीचे दिए गए हैं:

1. श्री ए. परम्परागत ब्रोकरेज प्लान चुन सकते थे और उन्होंने वही किया। दूसरे शब्दों में, वे ब्रोकरेज का पूर्व-निर्धारित प्रतिशत चुन सकते थे। उदाहरण के लिए, वे प्रत्येक रु. 100 पर इंट्राडे ट्रेडिंग के लिए 0.015% और डिलीवरी सौदों के लिए 0.15% देने के इच्छुक हो सकते थे।

2. दूसरी ओर श्री बी. ने आर्डर के हिसाब से ब्रोकरेज का भुगतान करना चुना। इसलिए वे अपने विवेक का उपयोग कर सकते हैं और प्रति आर्डर रु. 8 का भुगतान करते हैं।

3. श्री सी. ब्रोकरेज प्रति लॉट देना चुन सकते थे। इसलिए शेयरों की प्रत्येक लॉट के लिए वे केवल रु. 5 देते हैं।

4. यदि कोई निवेशक करेंसी ट्रेडिंग चुनता है, तो वह रु. 699 का निर्धारित मंथली प्लान चुन सकता है और हर माह इस निर्धारित राशि का भुगतान कर सकता है।

5. यदि किसी क्लाइंट का हमारे यहां कमोडिटीज सेगमेंट में खाता है, तो वह अपनी सुविधा के अनुसार उक्त में से कोई भी विकल्प चुन सकता है।

बाज़ार में हाल ही में प्रवेश करने के बावजूद बीलाइन ब्रोकिंग ने ऐसी सेवाएं प्रदान करने की परंपरा बनाई हुई है जिन पर मौजूदा क्लाइंट्‌स भी भरोसा करते हैं। एकदम शुरुआत में ही बीलाइन ने रिवार्ड प्वाइंट्‌स सिस्टम पेश किया था, जो ब्रोकरेज को रिवार्ड प्वाइंट्‌स में बदल देता था जिनको निवेशकों द्वारा समय-समय पर वाउचरों के जरिए विविध रिटेल आउटलेट्‌स पर भुनाया जा सकता था। इन्होंने दो-तरफा रेफरल प्रोग्राम भी शुरू किया, जिससे क्लाइंट खुद को मिलने वाली सेवाओं की किसी अन्य के सामने तारीफ करके अतिरिक्त आमदनी कर सकता है। इन्होंने अपनी वेबसाइट पर इन्वेस्टर एनालिटिक्स भी पेश किया जहां कोई निवेशक अपने निवेश व ट्रेडिंग पैटर्न का परींक्षण और विश्लेषण कर सकता है और अपनी आमदनी बढ़ाने के लिए बुद्धिमानी से निर्णय ले सकता है।

इसके अलावा, इस एकदम आधुनिक ब्रोकिंग कंपनी ने अपने क्लाइंट्‌स को अन्य कई सारे फायदे भी दिलाए, जैसे किः

  • निवेशकों द्वारा कभी भी कोई जानकारी पाने के लिए आसान पहुंच वाली रिस्पांसिव साइट।
  • निवेशक के लिए समझने में आसान केवाईसी फार्म।
  • लाइव आरएमएस स्टेट्‌स और ऑनलाइन भुगतान सुविधा वाला मोबाइल एप।
  • आईपीओ के बारे में मार्गदर्शन चाहने वाले छोटे और मध्यम उद्यमों के लिए समर्पित एसएमई डेस्क।
  • बाज़ार गतिविधियों में अनुशासित रहने के इच्छुक लेकिन समय की कमी की वजह से ऐसा न कर पाने वालों के लिए सिस्टेमेटिक इक्विटी प्रोडक्ट।
  • बीलाइन, तथा देश की प्रमुख बैंकों से उनके गठबंधन के नेटवर्क के माध्यम से स्वचालित खरीद और ऑटो डेबिट सुविधाएं।
  • किसी भी समय पर निवेशकों की पूछताछ का समाधान करने के लिए कम्प्लीट बैक ऑफिस लिंक हेतु आईवीआरएस सिस्टम।
  • रीयल टाइम आधार पर पूछताछ समाधान के इच्छुक निवेशकों के लिए लाइवचैट की सुविधा।

बीलाइन ब्रोकिंग लिमिटेड के विषय में:

सितम्बर, 2014 में स्थापित बीलाइन ब्रोकिंग लिमिटेड अहमदाबाद स्थित ब्रोकिंग कंपनी है जिसने ग्राहक केंद्रित सोच के साथ आधुनिक तकनीक का उपयोग करते हुए ऐसी युवा ब्रोकरेज कंपनी के रूप में खुद को साबित किया है जिसे कई सारी नई चीज़ें शुरू करने का श्रेय है। इसके प्रवर्तक समूह का कुल 45 वर्षों का अनुभव इसके साथ जुड़ा है। सचमुच नवप्रवर्तक तथा कार्यकुशल ब्रोकिंग कंपनी के रूप में इसने तेजी से अपनी जगह बनाई है और थोड़े ही समय में अपने ग्राहकों से अटूट रिश्ता कायम कर लिया है।

मेसर्स बीलाइन ब्रोकिंग लिमिटेड
बी-307, गणेश प्लाजा,
B/S नवरंगपुरा पोस्ट ऑफिस,
नवरंगपुरा,
अहमदाबाद-380009
फोन: 079-66637588
सेबी में पंजीयन संख्या: Inz000000638

अस्वीकरणः निवेश बाज़ार जोखिमों के अधीन होते हैं, किसी प्रतिभूति उत्पाद में निवेश करने से पूर्व निवेशक को अपनी व्यक्तिगत जोखिम सहन क्षमता के अनुसार उचित पूर्वसावधानी रखनी चाहिए। अधिक विवरणों के लिए http://www.beelinebroking.com देखें।

मीडिया संपर्कः
श्री वनेश पंचाल,
[email protected] ,
+91-9725009939,
निदेशक,
बीलाइन ब्रोकिंग लिमिटेड

Stocks to Buy: ब्रोकर कंपनी के शेयर में बनेगा आपका पैसा, एक्सपर्ट ने दी BUY Call, चेक करें TGT

Stocks to Buy: शेयर बाजार में खरीदारी के लिए मार्केट एक्सपर्ट संदीप जैन ने एक दमदार शेयर चुना है. ये शेयर शॉर्ट से लॉन्ग टर्म में अच्छी कमाई करा सकता है.

Stocks to Buy: शेयर बाजार में पैसा लगााना रिसर्च भरा काम है. यहां जिस शेयर में कमाई के लिए पैसा लगाना है, पहले उसकी जानकारी रख लेना बहुत जरूरी है. क्योंकि शेयर बाजार (Share Market) एक ऐसी जगह है, जहां आपका पैसा डबल तो होता ही है लेकिन अगर गलत शेयर चुन लिया जाए तो आपका पैसा डूब भी सकता है. शेयर बाजार में खरीदारी के लिए मार्केट एक्सपर्ट संदीप जैन (Sandeep Jain) ने एक दमदार शेयर चुना है. यहां निवेशक शॉर्ट टर्म के लिए खरीदारी कर सकते हैं और अपने पैसे से पैसा कमा सकते हैं.ब्रोकर चुनना

संदीप जैन को पसंद है ये Stock

मार्केट एक्सपर्ट संदीप जैन ने आज शेयर बाजार मे पैसा लगाने के लिए Angel One को चुना है. एक्सपर्ट के मुताबिक इस कंपनी के शेयर में शॉर्ट टर्म के लिए पैसा लगाया जा सकता है और यहां अच्छी कमाई की जा सकती है.

Zee Business Hindi Live यहां देखें

Angel One में खरीदारी की सलाह

एक्सपर्ट ने बताया कि ये कंपनी 1987 से काम कर रही है. वहीं भारत की टॉप 10 ब्रोकर इंडस्ट्री में से एक है. कंपनी ने टेक्नोलॉजी पर खासा ध्यान दिया है. एक्सपर्ट ने कहा कि कंपनी के पॉलिसी को ध्यान में रखते हुए वो इसके ब्रोकर चुनना शेयर पर काफी बुलिश हैं.

Angel One - Buy

  • CMP - 1218
  • Target - 1450/1490
  • Duration - 6-9 महीने

आज Angel One को क्यों चुना संदीप जैन ने ?

कैसे हैं कंपनी के फंडामेंटल्स?

कंपनी के फंडामेंटल्स की बात करें तो ये शेयर सस्ते वैल्यूएशन पर ट्रेड करता है. कंपनी का डिविडेंड यील्ड 1 फीसदी के आसपास है. एलआईसी के आईपीओ से कंपनी के शेयर पर अच्छा खासा असर देखने को मिल सकता है.

कैसे रहे कंपनी के सितंबर तिमाही के नतीजे?

इस साल सितंबर तिमाही में कंपनी ने 113 करोड़ रुपए का मुनाफा पेश किया था, जबकि पिछले साल 74 करोड़ रुपए का मुनाफा पेश किया था. एक्सपर्ट ने कहा कि ये कि शेयर ऊपर के लेवल से अच्छा करेक्ट हुआ है और 6-9 महीने में अच्छी कमाई करा सकता है.

रेटिंग: 4.37
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 518
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *