खास टिप्स

Cryptocurrency समाचार

Cryptocurrency समाचार
मार्केट के स्टेबल होने पर Bitcoin और Ethereum के साथ बाकी पॉपुलर क्रिप्टो Cryptocurrency समाचार में बढ़त देखने को मिली है। दुनिया के पांचवें सबसे बड़े कॉइन BNB में आज लगभग 2 प्रतिशत की बढ़त देखने को मिली है। पिछले हफ्ते के मुकाबले यह कॉइन इस वक्त लगभग 27 प्रतिशत नीचे ट्रेड कर रहा है। इसकी मौजूदा कीमत 16,882 रुपये है।

crypto currancy

Cryptocurrency Bill की खबर के बाद पैनिक सेलिंग,क्या कह रहे एक्सपर्ट?

Cryptocurrency Bill की खबर के बाद पैनिक सेलिंग,क्या कह रहे एक्सपर्ट?

सरकार द्वारा भारत में क्रिप्टो को बैन करने के लिए बिल लाने की बात आते ही भारत में क्रिप्टो मार्केट में भारी सेल ऑफ देखेने को मिला. लगभग हर क्रिप्टो में हुई बड़ी गिरावट के बीच क्विंट हिंदी ने Cryptocurrency समाचार इस बिल पर क्रिप्टो प्लेटफार्मस के सीईओ से बातचीत की. इस बिल पर उनकी क्या राय है और अब निवेशकों को क्या करना चाहिए?

Unocoin के फाउंडर और सीईओ सात्विक विश्वनाथ ने क्रिप्टो के फायदे के बारे में बताते हुए कहा कि Cryptocurrency समाचार क्रिप्टो एक देश से दूसरे देश में पैसा भेजने और ई-कॉमर्स स्पेस में क्रांतिकारी साबित हो सकता है, लेकिन बैन लगने से इस बड़े मौके पर असर होगा.

दिग्गजों को बिल के आने का इंतजार

WazirX के सीईओ निश्चल शेट्टी क्विंट हिंदी से इस बिल के बारे में बात करते हुए कहते हैं कि- "ड्राफ्ट बिल के डिस्क्रिप्शन देखने से यह काफी हद तक जनवरी 2021 जैसा ही लगता है. हालांकि जनवरी से अब तक क्रिप्टो के जुड़े कई बड़े इवेंट्स हुए, पहले संसदीय स्टैंडिंग कमिटी ने पब्लिक से राय मशवरे मांगे, अनुराग ठाकुर और फाइनेंस मिनिस्टर निर्मला सीतारमण ने भी जिक्र किया कि इंडिया क्रिप्टो पर उचित कदम लेगा. उसके बाद खुद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आगे आते हुए इंडिया में क्रिप्टो रेगुलेशन की बात कही".

WazirX के सीईओ निश्चल शेट्टी ने यह भी कहा कि अगर पार्लियामेंट में ये बिल Cryptocurrency समाचार आता है तो इस बिल पर कई डिसकशन, बहस और विचार-विमर्श किए जायेंगे.

पैनिक सेलिंग से बचने की सलाह

निश्चल ने बताया कि इस खबर की वजह से पैनिक सेलिंग देखने को मिली. वो कहते हैं

कल रात हमारे प्लेटफार्म पर पैनिक सेलिंग देखी गई. लोग विंटर सेशन में आने वाले क्रिप्टो को बैन कर देने वाले बिल की वाली खबर से घबरा गए और INR मार्केट में अपने होल्डिंग्स को बेचने लगे.

निश्चल कहते हैं क्रिप्टो रेग्युलेशन की प्रक्रिया पर काम चालू है, हमें कानून बनाने वाले लोगों पर भरोसा रखने की जरूरत है. उन्होंने आगे निवेशकों से आग्रह Cryptocurrency समाचार किया कि वो घबराए नहीं, पैनिक सेलिंग करने से परहेज करें.

Unocoin के को-फाउंडर सात्विक कहते हैं क्रिप्टो बाजार में पैनिक सेलिंग हो रही है और कुछ लोग इसका गलत फायदा उठा रहे हैं जो कि नहीं होना चाहिए.

जिस बिल का नाम सुनते ही क्रिप्टो धड़ाम,उसमें क्या है?बैन के पक्ष-विपक्ष में तर्क

जिस बिल का नाम सुनते ही क्रिप्टो धड़ाम,उसमें क्या है?बैन के पक्ष-विपक्ष में तर्क

क्रिप्टो करेंसी को लेकर भारत में क्या योजना बन रही है?

क्रिप्टो करेंसी

भारत सरकार ने संसद में क्रिप्टो करेंसी एंड रेगुलेशन ऑफ़ ऑफ़िशियल डिजिटल करेंसी बिल पेश करने का फ़ैसला लिया है. इस विधेयक के बारे में जानकारी अब तक सार्वजनिक नहीं है.

यह विधेयक भारत में क्रिप्टो करेंसी के इस्तेमाल को क़ानूनी रूप से नियंत्रित करेगा.

क्रिप्टो करेंसी पर भारत के हर क़दम पर दुनिया की नज़र है. संसद के अगले सत्र में अगर इस विधेयक को पेश किया जाता है तो इस पर निवेशकों की क़रीबी नज़र होगी.

इमेज स्रोत, BEATA ZAWRZEL/NURPHOTO VIA GETTY IMAGES

केंद्रीय वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण साफ़ कर चुकी हैं कि सरकार की योजना क्रिप्टो करेंसी पर पूरी तरह प्रतिबंध लगाने की नहीं है. असल में सरकार क्रिप्टो करेंसी के आधार वाली तकनीक ब्लॉकचेन को रक्षा कवच देना चाहती है.

BitCoin पर सरकार का मन तैयार! क्रिप्टो करेंसी नहीं, आपकी संपत्ति होगा, समझिए सबकुछ

bitcoin-litecoin

भारत सरकार ने Crypto पर अलग रवैया अपनाने का फैसला किया है। भारत में क्रिप्टो करेंसी को मुद्रा के रूप में अनुमति नहीं दी जाएगी। इसका मतलब यह है कि अगर किसी के पास बिटकॉइन या इथेरियम जैसी क्रिप्टो करेंसी है तो वह उससे शेयर, गोल्ड या बॉन्ड की तरह रख सकते हैं, लेकिन उसे करेंसी की तरह पेमेंट करने में उपयोग नहीं कर सकते।

यह भी पढ़ें: हवाई यात्रियों के लिए खुशखबरी! अब हर तरह की फ्लाइट में मिलेगा खाना; मैगजीन और न्यूजपेपर भी होंगे मुहैया

क्रिप्टो को बढ़ावा नहीं

इस मामले से जुड़े लोगों की सरकार के साथ एक बैठक हुई है जिसमें फैसला लिया गया है कि क्रिप्टोकरेंसी एक्सचेंज और ट्रेडिंग प्लेटफार्म द्वारा बिटकॉइन जैसी क्रिप्टोकरेंसी को बढ़ावा देने की अनुमति नहीं मिल पाएगी। इस मामले से जुड़े लोगों ने बताया है कि सरकार क्रिप्टो के मामले में एक विधेयक को अंतिम रूप देने में जुटी है। Cryptocurrency समाचार

बिटकॉइन से पेमेंट नहीं

मोदी सरकार देश में क्रिप्टो ट्रेडिंग के नियम तैयार कर रही है। भारत में सरकार वर्चुअल करेंसी के जरिए पेमेंट ट्रांजैक्शन पर रोक लगाने जा रही है। इस बारे में क्रिप्टो बिल को अंतिम रूप दिया जा रहा है।एक सरकारी सूत्र ने इस बारे में कहा, "देश में लोग गोल्ड, शेयर या बांड की तरह क्रिप्टो को संपत्ति के रूप में रख सकेंगे। इतना साफ़ है कि क्रिप्टो एक्सचेंज और ट्रेडिंग प्लेटफार्म को एक्टिव सोलिटिसेशन की अनुमति नहीं दी जाएगी।"

Top 100 Cryptocurrency का क्या है हाल

टॉप 100 Cryptocurrency में आज सबसे ज्यादा बढ़त Elrond (EGLD) ने हासिल की है। यह कल के मुकाबले 14.23 प्रतिशत ऊपर है। TRON (TRX), Helium (HNT) और Uniswap (UNI) भी आज 10 प्रतिशत ज्यादा बढ़े हैं। आज मार्केट में कुछ कॉइन की कीमत में कमी भी आई है। इनमें XDC Network, GateToken, Bitcoin Cash, Monero, Gala और Quant जैसी करेंसी शामिल हैं।

  • Published Date: June 16, 2022 5:31 PM IST
  • Updated Date: June 16, 2022 9:55 Cryptocurrency समाचार PM IST

दुनियाभर की लेटेस्ट tech news और reviews के साथ best recharge, पॉप्युलर Cryptocurrency समाचार मोबाइल पर मिलने वाले एक्सक्लूसिव offers के लिए हमें फेसबुक, ट्विटर पर फॉलो करें। Also follow us on Facebook Messenger for latest updates.

ठगी का आरोप

सामने आ रही रिपोर्ट के मुताबिक, धनराज और संतोष एक-दूसरे को 2014 से जानते हैं। ज्यादा पैसे कमाने के लिए संतोष ने धनराज से कई जगह इन्वेस्ट करने के लिए कन्वींस किया, जिनमें क्रिप्टोकरेंसी भी शामिल था। धनराज ने संतोष की बातों में आकर 2.25 करोड़ रुपये ऑनलाइन और कैश ट्रांजैक्शन के जरिए इन्वेस्ट किया था। हालांकि, क्रिप्टो में धनराज ने कितना इन्वेस्ट किया था, इसका अभी तक खुलासा नहीं हुआ है। जयनगर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ ठगी का मुकदमा दर्ज किया है। Also Read - Apex Legends Mobile कर बैठा गलती, वक्त से पहले जोड़ दिया Crypto लेजेंड

पिछले Cryptocurrency समाचार साल भी बेंगलूरू के 38 साल के युवक ने क्रिप्टो करेंसी (Crypto Currency) के जरिए 10 लाख रुपये की ठगी का केस दर्ज कराया था। जिसमें युवक ने एक क्रिप्टो ट्रेडिंग वेबसाइट को अपने अकाउंट से 90 हजार रुपये ट्रांसफर कर रहा था, जिसमें गलत हेल्पलाइन नंबर की वजह से साइबर अपराधी ने युवक के बैंक अकाउंट से 9 लाख रुपये ठग लिए थे। Also Read - Top 5 Stable Coins: Tether (USDT) से TrueUSD (TUSD) तक टॉप 5 स्टेबल Cryptocurrency, जिनकी कीमत रहती है डॉलर के बराबर

ठगी किए गए पैसे को रिकवर करना मुश्किल

हालांकि, क्रिप्टो करेंसी एक ब्लॉकचेन (Blockchain) टेक्नोलॉजी पर काम करता है, जिसकी वजह से इसके ट्रांजैक्शन को ट्रेस करना लगभग नामुमकिन है। ऐसे में क्रिप्टो करेंसी के लिए लगाए गए पैसे को रिकवर करना भी मुश्किल है।

पहले भी Crypto करेंसी के जरिए ठगी की कई और घटनाएं सामने आई हैं। पिछले महीने (दिसंबर 2021) में हैदराबाद की एडिशनल कमीशनर (क्राइम और SIT) शिखा गोयल ने भी इसमें पैसा इन्वेस्ट करने वाले लोगों को आगाह किया था।

इस तरह ठगी से बचें

साइबर अपराधी क्रिप्टो में पैसा लगाने वाले लोगों से क्रिप्टो करेंसी की डिटेल मांगते हैं। जैसे ही आप अपने वॉलेट में क्रिप्टो के लिए पैसा डालते हैं, साइबर अपराधी उन्हें निकाल लेते हैं। इसलिए अगर, यूजर क्रिप्टो करेंसी में इन्वेस्ट करना चाहते हैं तो किसी पुराने प्लेयर या फिर पहले से ही मार्केट में पहचान बना चुके क्रिप्टो करेंसी ट्रेडर्स के जरिए ही इन्वेस्ट करें। हालांकि, भारत सरकार क्रिप्टो करेंसी को रेगुलेट करने के लिए कानून बनाने की कोशिश कर रही है।

सरकार ने क्रिप्टो करेंसी के बढ़ रहे चलन पर आगाह करते हुए कहा कि यह इन्वेस्टर को अपनी ओर खींच रहा है। लोग गलत तरीकों से कमाए गए फंड यानी की काले धन का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिसकी वजह से टेरर फंडिंग और मनी लॉन्ड्रिंग को बढ़ावा मिल रहा है। यही नहीं, पिछले दिनों एक साइबर सिक्योरिटी रिसर्च एजेंसी ने बताया कि 10 मिलियन यानी 1 करोड़ से भी ज्यादा फर्जी क्रिप्टो वेबसाइट पर भारतीय ने विजिट किया है। ऐसे में क्रिप्टो करेंसी के जरिए होने वाले ठगी में और भी इजाफा देखने को मिल सकता है।

रेटिंग: 4.75
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 689
उत्तर छोड़ दें

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा| अपेक्षित स्थानों को रेखांकित कर दिया गया है *